What Is Cheque? चेक क्या है ? Use of bank Cheque ?


What Is Cheque? चेक किसे कहते है ?

चेक एक प्रकार से विनिमय बिल (Bill Of Exchange) होता है जो एक निर्दिष्ट विशिष्ट बैंक के ऊपर आहरित होता है तथा मांग पर ही जिसका भुगतान किया जाता है अर्थात् Cheque एक ऐसा कागज है जिसकी वैल्यू नोट की तरह ही होती है। लेकिन चेक की वैल्यू नोट से कहीं अधिक हो सकती है। चेक के माध्यम से कोई बैंक अकाउंट होल्डर किसी अगले व्यक्ति को अपने अकाउंट से डायरेक्ट कैश न देकर भुगतान कर सकता है। संक्षेप में कहें तो चेक बिना कैश का भुगतान है। जैसे आजकल इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर (Electronic transfer) होता है।

चेक में 3 पक्ष होते हैं
पहला पक्ष:- भुगतान का आदेश देने वाला (अहर्ता)
दूसरा पक्ष:- जिसको आदेश दिया जाता है (बैंक)
तीसरा पक्ष:- जो भुगतान प्राप्त करता है (चेक धारक)

चेक कितने प्रकार के होते है (How Many Types of Cheque in Hindi)

1. साधारण चेक (Bearer Cheque):- जब तक संदेह करने के लिए कोई विशेष कारण ना हो धारक चेक का भुगतान चेक प्रस्तुत करने वाले को किया जा सकता है भले ही वह चेक उसके नाम हो अथवा नहीं।

2. आदिष्ट चेक (Order Cheque):- जब धारक चेक में से धारक शब्द को काट दिया जाता है और उस पर आर्डर लिख दिया जाए तो चेक आर्डर चेक बन जाता है इस चेक का भुगतान करने के लिए बैंक भुगतान लेने वाले व्यक्ति की पहचान करती है और औपचारिकता के बाद ही भुगतान किया जाता है।

3. रेखांकित चेक (Crossed Cheque):- जब चेक के ऊपर बायीं ओर दो समांतर रेखाएं बना दी जाती है तो वह चेक रेखांकित चेक बन जाता है इसका भुगतान बैंक काउंटर पर नगदी में नहीं कराया जा सकता है इसको किसी खाते में ही जमाकर प्राप्त किया जा सकता है।

4. पावक खाता चेक (Account Payee Cheque):- जब किसी चेक के बाँयी ओर ऊपर दो समांतर रेखाओं के मध्य पावक खाता चेक (Account Payee Only ) लिख दिया जाता है तो इसे पावक खाता चेक कहते हैं|

Note:- जब चेक के मुख्य पृष्ठ पर दो समांतर रेखाओं के मध्य किसी बैंक का नाम लिख दिया जाता है तो यह एक विशिष्ट रेखांकित चेक बन जाता है जिसका भुगतान सिर्फ वही बैंक करता है।

5. यात्री चेक (Travel Cheque):- यात्री चेक किसी बैंक द्वारा जारी किया गया ऐसा चेक होता है जिसे जारी करते समय चेक के मुख्य पृष्ठ पर आवेदक के हस्ताक्षर कराए जाते हैं।

Note -: यदि किसी चेक का आहरण कर्ता चेक लिखते समय उस पर कोई आगामी तारीख लिख देता है तो ऐसे चेक को पोस्ट डेटेड (Post Dated) चेक कहते हैं।

कैंसिल्ड चेक क्या होता है (Cancelled cheque in Hindi)

कैंसिल्ड चेक (Cancelled cheque) बैंक द्वारा कोई अलग से दिया जाने वाला चेक नहीं हैं, बल्कि आपके सामान्य चेक की तरह ही है जिसे आप खुद कैंसिल्ड चेक में बदल सकते हैं जब भी किसी चेक के ऊपर कैंसिल्ड लिख दिया जाता है तो उसका मतलब होता है कि वो चेक अब किसी भी काम का नहीं रहा है उसका इस्तेमाल पैसों को निकालने के लिए नहीं किया जा सकता है।

What Is Cancelled Cheque? कैंसिल्ड चेक किसे कहते है ?

किसी भी सामान्य चेक को कैंसिल्ड चेक में बदलने के लिए बस आपको पेन की मदद से चेक पर दो समान्तर रेखाएं खींचनी पड़ती हैं और उन दोनों के बीच में cancelled लिखना पड़ता है इसके बाद आपका सामान्य चेक कैंसिल्ड चेक में परिवर्तित हो जाता है।

कैंसिल्ड चेक को एक सत्यापन दस्तावेज के तौर पर देखा जाता है अगर कोई कंपनी या बैंक आपसे कैंसिल्ड चेक की मांग कर रही है तो वो आपके बैंक खाते के बारे में सत्यापित एवं शत प्रतिशत पुख्ता जानकारी हासिल करना चाहती है जिससे आप अपने उस बैंक में खाता होने का दावा कर सकते है इसलिए कैंसिल्ड चेक (Cancelled cheque) की जरुरत पड़ती है।

हम आशा करते है अब आप समझ गए होंगे की What is Cheque ? (चेक क्या है, चेक किसे कहते है) और चेक का क्या प्रयोग है (Use of Bank Cheque) तथा कैंसिल्ड चेक क्या है (cancelled cheque in Hindi) अगर आपको चेक से सम्बन्धित लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें।

Read also
What Is Cheque? चेक क्या है ? Use of bank Cheque ? What Is Cheque? चेक क्या है ? Use of bank Cheque ? Reviewed by Admin on 1:33 AM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.