FIR Full Form क्या है - पुलिस एफ.आई.आर दर्ज नहीं कर रही तो क्या करें

FIR Full Form क्या है - पुलिस एफ.आई.आर दर्ज नहीं कर रही तो क्या करें
क्या आप जानते है FIR क्या होता है, FIR ka full form और Hindi meaning kya hota hai, एफआईआर का पूरा नाम क्या है, अगर पुलिस एफ.आई.आर दर्ज करने से मना करे तो क्या करें, FIR क्यूँ किया जाता है एफआईआर शिकायत क्या है, एफ.आई.आर कौन दर्ज करता है, तो आईये जानते है एफआईआर का क्या मतलब है |

FIR का full form "First Information Report" (फर्स्ट इनफार्मेशन रिपोर्ट) होता है और FIR का Hindi meaning “प्रथम सुचना रिपोर्ट” होती है सेक्शन 154 के अंतर्गत प्रथम सुचना रिपोर्ट लिखवाने का प्रावधान है जब किसी घटना या शिकायत को पुलिस के पास कार्यवाई के लिए दर्ज कराया जाता है तो इस सुचना को एफआईआर कहा जाता है |  

FIR के दर्ज कराने के बाद ही पुलिस को अपराधी के बारे में जानकारी मिलती है एफआईआर दर्ज करने के बाद पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी के द्वारा, शिकायतकर्ता को FIR की एक कॉपी दी जाती है जिसके आधार पर पुलिस, आरोपी की खिलाफ़ वारंट जारी करती है FIR दर्ज कराने के अनेक कारण हो सकते है जैसे चोरी, हत्या, धोखाधड़ी, उत्पीड़न, इत्यादि होने पर FIR कराया जा सकता है |

अगर पुलिस FIR दर्ज करने से मना करती है तो आप उस पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी के खिलाफ़ शिकायत कर सकते है इसके लिए शिकायतकर्ता को 15 दिनों के अंदर S.P (Superintendent of Police) को एक लिखित शिकायत पत्र देना होता है |

अगर आपके साथ कोई भी अपराध होता है तो Police के पास FIR अवश्य दर्ज कराये ताकि पुलिस उसकी जाँच शुरू कर सकें और आपको न्याय मिल सकें |

Read also
FIR Full Form क्या है - पुलिस एफ.आई.आर दर्ज नहीं कर रही तो क्या करें FIR Full Form क्या है - पुलिस एफ.आई.आर दर्ज नहीं कर रही तो क्या करें Reviewed by Admin on 3:13 AM Rating: 5

4 comments:

Powered by Blogger.