Computer Kya Hai कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है


Computer क्या है Computer meaning in Hindi : आजकल के समय में Computer के बारे में जानकारी रखना बहुत जरुरी है आज की इस पोस्ट में हम आपके साथ कंप्यूटर के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहे है जैसे Computer Kya Hai ? Types of Computers ये कितने प्रकार के होते है आज के समय में हर छोटी बड़ी जगहों पर कंप्यूटर का होना एक आम बात है कंप्यूटर का नाम सुनते ही हमारे दिमाग में कई तरह के सवाल आने लगते है क्योकि computer एक ऐसा डिवाइस है जो सैकड़ो काम अकेला कर सकता है आपने कंप्यूटर के बारे में कई जगहों पर पड़ा होगा लेकिन कंप्यूटर के अपने शब्दों में स्पष्ट करना थोडा मुस्किल होता है आज हम आपको आसान शब्दों में बताएँगे की Computer Kya Hai और Computer के कितने प्रकार (Types) होते है |
Computer Kya Hai कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है

What is Computer ? कंप्यूटर क्या है

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रोनिक मशीन है कंप्यूटर शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा के एक शब्द Compute से हुई है जिसका मतलब है “A machine that can make calculations” अर्थात वह मशीन जो किसी भी तरह की कैलकुलेशन कर सकती है | वैसे कंप्यूटर को स्पष्ट करना इसके फुल फॉर्म से उचित नहीं है असल में कंप्यूटर “COMPUTE” शब्द से बना है जिसका मतलब गणना करना होता है इस तरह कंप्यूटर एक गणना करने वाली मशीन है कंप्यूटर का फुलफॉर्म यूनिवर्सल नहीं है और इसका कोई भी फुल फॉर्म यूनिवर्सल नहीं हो सकता क्योकि कंप्यूटर का मूल नाम Compute है कंप्यूटर यूजर से कुछ डाटा उपकरणों (माउस, कीबोर्ड, स्कैनर, पॉइंटर आदि) के जरिये इनपुट के रूप में लेता है और एक मतलब रखने वाला आउटपुट प्रदान करता है |

Types of Computer ? कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है

कंप्यूटर को समझने के बाद अब सवाल उठता है की कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है अनुप्रयोग के आधार पर कंप्यूटर को आधारों पर विभाजित किया गया है
1. Based of Structure संरचना के आधार पर
2. Based of Performance and Size कार्य क्षमता के आधार पर

1). Based of Structure संरचना के आधार पर इसे टीम भागो में बाटा गया है
a). Digital Computer : डिजिटल कंप्यूटर अंको या संख्याओ की मदद से फिजिकल मात्रा को प्रतिनिधित्व करता है इन संख्याओ का उपयोग अंकगणित गणना करने के लिए किया जाता है और यूजर द्वारा प्राप्त डाटा के आधार पर निष्कर्ष तक पहुँचने के लिए तर्कसंगत निर्णय भी किया जाता है सभी पर्सनल कंप्यूटर इस केटेगरी में आते है और डिजिटल कंप्यूटर को तीन भागों में बाटा जा सकता है

b). Analog Computer : एनालॉग कंप्यूटर का उपयोग भौतिक मात्राओं जैसे करंट, वोल्टेज, तापमान दाब, गति, प्रतिरोध इत्यादी से निपटते है इनका इस्तेमाल मुख्य रूप से उद्योग, अनुसंधान और एंगीनियरिंग के क्षेत्र में किया जाता है एनालॉग कंप्यूटर में उपयोग किये गए डाटा की सटीकता सीधे इसके माप की शुद्धता से सम्बन्धित है |

c). Hybrid Computer : हाइब्रिड कंप्यूटर में डिजिटल कंप्यूटर और एनालॉग दोनों की विशेषता पायी जाती है हाइब्रिड कंप्यूटर के पास एनालॉग कंप्यूटर की गति और डिजिटल कंप्यूटर एक्यूरेसी होती है साथ ही ये विशेष उपकरणों ले लैस होती है हाइब्रिड कंप्यूटर का उपयोग मेडिकल के क्षेत्र में किया जाता है |

2). Based of Performance and Size कार्य क्षमता के आधार पर इसे चार भागों में बाटा गया है
a). Micro computer : माइक्रो कंप्यूटर को पर्सनल कंप्यूटर के नाम से भी जाना जाता है इस कंप्यूटर में माइक्रो प्रोसेसर का प्रोयोग किया जाता है और यह कंप्यूटर दुसरे कंप्यूटर की अपेक्षा आकार में छोटे होते है यह इतना छोटा होता है की इसे एक स्थान से दुसरे स्थान पर आसानी से ले जाया जा सकता है यह इसका इस्तेमाल अधिकतर पर्सनल यूज़ के लिए किया जाता है और इसकी लागत भी बहुत कम है |

b). Mini Computer : मिनी कंप्यूटर, माइक्रो कंप्यूटर से अधिक तेज गति व मेमोरी वाले कंप्यूटर होते है यह कंप्यूटर माइक्रो कंप्यूटर और मेनफ़्रेम कंप्यूटर के बीच की श्रेणी में आता है इसकी प्रोसेसिंग बहुत तेज होती है इसमें एक से अधिक CPU लगे हो सकते है यह माइक्रो कंप्यूटर से महँगे होते है इसका इस्तेमाल यातायात में यात्रियों के लिए आरक्षण व बैंकिंग कार्य प्रणाली में किया जाता है |

c). Mainframe Computer : मेनफ़्रेम कंप्यूटर आकार में बहुत बड़े होते है यह कंप्यूटर मिनी कंप्यूटर की तुलना में अधिक शक्तिशाली होते है इसमें बड़ी मात्रा में डाटा पर तेजी से प्रोसेसिंग करने की क्षमता होती है इस कंप्यूटर का उपयोग बड़ी बड़ी कम्पनीयां जैसे की बैंक, रेलवे क्षेत्र और सरकारी विभागों द्वारा किया जाता है यह कंप्यूटर आकार में बड़े होने के साथ साथ महँगे भी होते है इस कंप्यूटर में हजारो लोग एक समय में कार्य कर सकते है |

d). Super Computer : सुपर कंप्यूटर अधिक शक्तिशाली गति वाले व अधिक क्षमता वाले कंप्यूटर होते है इस कंप्यूटर में डाटा की प्रोसेसिंग की क्षमता अन्य के मुकाबले बहुत अधिक होती है इस कंप्यूटर का आकार बहुत बड़ा होता है सुपर कंप्यूटर का इस्तेमाल सरकारी या बड़े – बड़े संस्थानों में मौसम की जानकारी, सॅटॅलाइट, परमाणु जानकारी, मिसाइल आदि की जानकारी और उसे कण्ट्रोल करने के लिए किया जाता है | भारत का पहला सुपर कंप्यूटर परम 8000 है जिसे जुलाई 1991 में उन्नत कंप्यूटिंग के विकास के लिए बनाया गया था |

तो दोस्तों में आशा करता हूँ आपको Computer Kya Hai और Types of Computers के बारे में जानकारी पसंद आई होगी यदि आपको कंप्यूटर से सम्बन्धित अधिक जानकारी प्राप्त करनी है तो हमारे कंप्यूटर से सम्बन्धित केटेगरी को पढ़ सकते है इसके अलावा आप अन्य पोस्ट भी पढ़ सकते है जो आपके बहुत काम आ सकती है |

Read also :-


      
Computer Kya Hai कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है Computer Kya Hai कंप्यूटर कितने प्रकार के होते है Reviewed by Admin on 11:23 PM Rating: 5

4 comments:

Powered by Blogger.